Currently Browsing: Exclusive News

Actress Mini Bansal will Be Seen in Krishna Abhishek’s Film, Sharmaji Lag Gayee

एक्ट्रेस मिनी बंसल दिखेंगी कृष्णा अभिषेक की फिल्म ‘शर्मा जी की लग गई’ में। 2014 की  मिस रायगढ़ रह चुकी मिनी बंसल,अब बॉलीवुड एक्ट्रेस मिनी बंसल को अब एक और बड़ी फिल्म में एक महत्वपूर्ण रोल मिला है.  इस फिल्म का नाम है ‘शर्मा जी की लग गई’ जिसमे मिनी बंसल का एक बेहद अहम किरदार है. आपको बता दें कि इस फिल्म में कृष्णा अभिषेक और मुग्धा गोडसे भी हैं. उल्लेखनीय है कि मिनी बंसल को हिंदी शोर्ट मूवी ‘ब्लाइंड विंडो’ के लिए अवार्ड भी मिल चूका है. निर्देशक मनोज शर्मा के निर्देशन में बनी फिल्म 15 मार्च को रिलीज़ होने जा रही कॉमेडी फिल्म ‘शर्मा जी की लग गई’ में मिनी बंसल एक अलग ही अवतार में नज़र आएँगी.    मोडलिंग की दुनिया में एक बड़ा नाम मिनी बंसल ने मायानगरी में बहुत कम वक्त में बिना किसी गॉड फादर के अपनी एक पहचान कायम कर ली है. हरियाणा की रहने वाली मीनाक्षी ने अपना फ़िल्मी नाम मिनी बंसल रखा है. उनकी कई शोर्ट मूवीज रिलीज़ हुई हैं जिसमे उनके काम की काफी प्रशंसा हुई है. वह कई कमर्शियल ऐड में भी दिख चुकी हैं. कई रैम्प शोज़ का हिस्सा रही मिनी बंसल की फैन फोलोविंग बहुत है. रैम्प शो अवार्ड से नवाजी गई मिनी का पंजाबी म्यूजिक अलबम ‘मुंबई की छोरी’ काफी पसंद किया गया. उन्होंने ‘उड़ते परिंदे’ और ‘मेरी शान है’ जैसे आइटम गीतों पर डांस कर के उन्होंने खूब तारीफें पाई हैं. बिना किसी गॉड फादर के मिनी ने जो सफ़र तय किया है वह प्रशंसा के योग्य है. अपनी मेहनत और टैलेंट के बल पर उन्होंने कृष्णा अभिषेक,जया प्रदा और गोविंदा के साथ “भगवान के लिए मुझे छोड़ दो” में अहम भूमिका निभा रही है. उन्होंने बॉलीवुड के साथ साथ साउथ की भी कई फिल्मो में अभिनय किया है. शेमारू म्यूजिक कम्पनी की थ्री गर्ल्स में लीड रोल प्ले करके उन्होंने अपना नाम कायम किया है. उन्हें बेस्ट अपकमिंग एक्ट्रेस का टाइफा अवार्ड भी मिला है. अब मिनी बंसल की सारी उम्मीदें ‘शर्मा जी की लग गई’ पर टिकी हुई हैं. रॉक माउंटेन प्रोडक्शंस के नीलकंठ रेग्मी ,वंशमणि शर्मा और ट्वीट एंटरटेनमेंट की फ़िल्म शर्माजी की लग गई का ट्रेलर और पोस्टर लांच हो चूका है। निर्माता निर्देशक अनिल शर्मा और मेहुल कुमार इस ट्रेलर को लांच करने आये थे। मनोज शर्मा इस फ़िल्म के लेखक निर्देशक हैं। फ़िल्म १५ मार्च को रिलीज़ होगी जिसका संगीत ज़ी म्यूजिक कंपनी के पास है। इसका टाइटल काफी इंट्रेस्टिंग है. फिल्म को बेहतेरीन ढंग से शूट किया गया है. यह एक लाईट हार्टेड कॉमेडी है. कृष्णा अभिषेक इस फिल्म में एक अख़बार के एडिटर का रोल कर रहे हैं. इस अख़बार में शर्मा जी (ब्रिजेन्द्र काला ) एक कॉलम लिखते है. मिनी बंसल को उम्मीद है कि यह कॉमेडी फिल्म दर्शको को बेहद पसंद आएगी ——Akhilesh Singh...
read more

Kaanch Video Song Launched On Valentine Day

बिहारी निर्देशक व प्रेजेंटर की कांच। प्यार और बेवफ़ाई की दास्तान काँच लॉंच स्टेप बाई स्टेप एंड रंग क्रीएशन द्वारा निर्मित व ख़ुश म्यूज़िक – उदय भगत द्वारा प्रस्तुत विडीओ सॉंग काँच वेलेंटाइन डे के अवसर पर रिलीज़ किया गया । जाने माने निर्माता किशन खादरिया के हाथों इसे लॉंच किया गया । इस मौक़े पर गाने पर अपनी अदा बिखेरने वाले अखिलेश वर्मा अक्की , रियाना शुक्ला ,  संतोष वर्मा आदि मौजूद थे । चार मिनट 28 सेकेंड के इस विडीओ में प्यार और बेवफ़ाई का चित्रण ख़ूबसूरत अन्दाज़ में किया गया है । यही नहीं अखिलेश वर्मा और रियाना शुक्ला के कुछ अंतरंग दृश्यों का भी चित्रण इस में किया गया है । दिलचस्प बात तो यह है की इसे ख़ुद कोरियोग्राफ किया है अखिलेश वर्मा अक्की ने जबकि विडीओ डायरेक्टर हैं प्रणव आर वत्स । बिहार के  भागलपुर निवासी प्रणव वत्स इन दिनों निर्देशन के क्षेत्र में काफी व्यस्त हैं । सॉन्ग के प्रेज़ेंटर उदय भगत जाने माने प्रचारक हैं जिन्होंने ख़ुश म्यूज़िक के ख़ुशबू सिंह के सहयोग से इसे रिलीज़ का मार्ग तैयार किया है । काँच के गाने में अपनी आवाज़ दी है विनती ने जबकि इसे लिखा है जयबीर पंघाल ने और संगीतकार हैं दीन मोहम्मद । गाने के ख़ूबसूरत दृश्यों को कैमरे में क़ैद किया है शकील और दुर्गेश ने । लॉंचिंग के अवसर पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए प्रणव आर वत्स ने कहा की वेब म्यूज़िक द्वारा रिलीज़ इस गाने को दर्शकों का अच्छा प्रतिवाद मिल रहा है । उन्होंने बताया कि जल्द ही दूसरा सोंग सुकून को रिलीज़ कर दिया जाएगा । ——Akhilesh Singh...
read more

Lalit Bajpai An influential Lyricist

एक असरदार गीतकार हैं ललित बाजपेयी(मुकेश कानपुरी)। गीत लिखना अपने आप में एक बड़ी कला है जो हुनर सबके पास नहीं होता. मगर ललित बाजपेयी एक ऐसे गीतकार हैं जो बेहद अच्छे गाने लिखते हैं जिनकी कलम में जादू है और जिनके ख्यालों में नई बात होती है. आपको बता दें कि उनके पिता कृष्ण दत्त किशोर बाजपेयी खुद एक उम्दा कवि थे. उन्होंने अपने जीवन काल में कई कवि सम्मेलनों में शिरकत की.  साहित्य जगत में उनका नाम किसी परिचय का मोहताज नहीं है. पदमश्री स्वः गोपाल दास नीरज कनपुर में डीएवी कालेज में साथ ही थे. कई कवि सम्मेलनों में नीरज जी,अशोक चक्रधर जी.ब्रजेन्द्र अवस्थी ,देवीप्रसाद राही,सिन्दूर जी आदि के साथ काव्यपाठ किया. बकौल एल एम बाजपाई ”कई कवि सम्मेलनों में मेरे द्वारा उनके साथ भी काव्यपाठ किया गया. एक जगह मैंनें लिखा था – ‘हम भी  आखिर बेटे हैं एक कवि के, रौशनी अभी कम है कभी चमकेगें रवि से.”    आपको बता दें कि एल एम बाजपाई के लिखे दो गीतों की रिकार्डिंग हो चुकी है जिसके बोल बड़े ही प्यारे हैं. पहला गीत है ‘लड़की है तू कितनी’ जबकि दुसरे गीत के बोल हैं ‘तुम ही तो जीने की एक वजह हो.’ डा.प्रतीक मिश्रा ने एक किताब ‘कानपुर के कवि’ के नाम से निकाली थी, उसमें उनका एक गीत छपा हुआ है. एल एम बाजपाई अब उस गीत को संगीत के साथ गाने जा रहे हैं. जिसके बोल हैं. ‘प्यार से पुकार लो.हाथ में सितार लो’. हम भी आखिर बेटे हैं एक कवि के: गीतकार ललित बाजपेयी(मुकेश कानपुरी) रौशनी अभी कम है कभी चमकेगें रवि से: ललित बाजपेयी(मुकेश कानपुरी) गीत वही लिख सकता है जिसका दिल घायल हो:गीतकार  ललित बाजपेयी(मुकेश कानपुरी) मेरे गीतों में तुमको इतना दर्द मिलेगा: ललित बाजपेयी (मुकेश कानपुरी) एल एम बाजपेयी ऐसी कविता लिखते हैं जो दिल को छू जाये. वह कहते हैं ”गीत वही लिख सकता है जिसका दिल सदियों से घायल हो, नाच वही सकता है जिसके पाँव में छम छम पायल हो, प्यार वही कर सकता है जिसका दिल भी सबसे प्यारा हो.’ एल एम बाजपेयी अपनी शायरी के सन्दर्भ में कहते हैं ”कलम साधता हूँ तो खुद ब खुद फिसल जाती है, तेरी तस्वीर दिल से होते हुये कागज पे उतर आती है, तेरी यादें ही तो मेरी सौगात हैं, यही दुल्हन मेरी यही बारात हैं, यादों के सिवा इस दिल में क्या छुपा रक्खा है, एक दिल भी तो नहीं कहते बचा रक्खा है.” एल एम बाजपेयी अपने गीतों में दर्द के एहसास को कुछ यूँ बयान करते हैं ”मेरे गीतों में तुमको इतना दर्द मिलेगा, प्यार न तो ज्यादा न कम मिलेगा, पढ़ो गे तो लफ़्ज़ों लफ़्ज़ों में दम मिलेगा.” एल एम बाजपेयी अपने आप को एक दीवाना शायर मानते हैं और कहते हैं ”दीवानों का जब जब नाम लिया जायेगा, मेरा नाम अदब से सबसे ऊपर ही आयेगा, जिस दिन मेरा स्वर हर दिल में लहरायेगा, मेरा नाम अदब से सबसे ऊपर ही आयेगा.” एल एम बाजपेयी फ़िल्मी गीतों में भी शायरी और कविता के स्तर को बरक़रार रखना चाहते हैं और असरदार शायरी करना चाहते हैं. —–Akhlesh Singh...
read more

Lighter Film Releasing Shortly All Over

फिल्म ,लाइटर, जल्द ही सिनेमा घरों में नजर आएगी जयंतीका फिल्म प्रॉडक्शन और नीलकमल फिल्म इंटरटेनमेंट के बैनर तले बनी हिंदी फिल्म,लाइटर, जिसके निर्माता जनार्दन विश्वकर्मा और राम सजन मौर्या हैं, जल्द रिलीज होने वाली है। बॉलीवुड में आजकल फिल्मो के टाइटल भी बड़े अलग किस्म के रखने का चलन है. ऐसा नाम जो ऑडियंस को उत्सुक कर दे फिल्म देखने के लिए. अब आपको जल्द ही हिंदी फिल्म ‘लाइटर’ के नाम से देखने को मिलेगी. इस फिल्म के डायरेक्टर मुकेश महादेवन, डीओपी ए .वेल मुर्गन, कहानीकार डॉ. जनार्दन विश्वकर्मा,  युसूफ शेख, गीतकार डॉ. जनार्दन विश्वकर्मा, युसूफ शेख और राम सजन मौर्या हैं. फिल्म की प्रस्तुतकर्ता ज्यंतिका फिल्म प्रोडकशन की मोनिका विश्वकर्मा हैं जबकि इसके प्रोड्यूसर प्रेमसागर मूवीज के डॉ जनार्दन विश्वकर्मा और नीलकमल फिल्म एंटरटेनमेंट के प्रोड्यूसर रामसजन मौर्या हैं। इस हिंदी फिल्म का नाम लाइटर क्यों है, यह एक सस्पेंस है क्योंकि लाइटर अगर आग जलाता है, तो कहीं आग बुझाता भी है. इस फिल्म का नायक गाँव के एक गरीब परिवार का लड़का है, जो शहर जाकर नौकरी करना चाहता है. नायक जब नौकरी के लिए जाने को तैयार होता है तो उसकी बहन नायक को राखी बंधवाकर जाने के लिए कहती है, इस सिचुएशन पर रक्षा बंधन पर एक बहुत ही प्यारा सा गीत है जो बेहद इमोशनल है. इस गीत के बोल हैं। चंदा कहे सूरज भैया से कभी न मुझको भुलाना जब भी पुकारे छोटी बहना दौड़ के तू चले आना नायक अपने चाचा के साथ शहर आता है जहाँ उसकी मुलाकात फिल्म की चुलबुली नायिका से होती है. फिल्म का हीरो नौकरी मिलने से पहले भगवान की पूजा करने मंदिर में जाता है यहाँ पर भी फिल्म में एक सुंदर सा गीत है जिसके बोल हैं तुझे कहते सब भगवान तू देदे मुझको भी वरदान मैं मालामाल हो जाऊं मैं धनवान हो जाऊं फिल्म की कहानी जिस तरह की है ऐसा लग रहा है कि ‘लाइटर’ में बॉलीवुड की मसाला फिल्म का पूरा फार्मूला मौजूद है. जहाँ हीरो है, उसकी बहन है, गाँव है फिर शहर की लोकेशन है और उसके बाद फिल्म म्यूजिकल लग रही है क्योंकि इस फिल्म में कई सिचुएशन्ल गीत हैं जो बेहद आकर्षक हैं. फिल्म सेंसर में है और जल्द रिलीज की जाएगी। —–Akhlesh Singh...
read more

RKHIV Aids Research & Care Centre Conduts World’s Biggest Medical Camp In Mumbai on 17th Feb 2019

मुम्बई में विश्व का सबसे बड़ा मेडिकल केम्प । मुम्बई – छत्रपति शिवाजी महाराज की 389 वी जयंती पर आगामी  17फरवरी2019 को मुंबई के वननॉम  ग्राउंड खेरवाड़ी बांद्रा पश्चिम  में एक मेगा मेडिकल केम्प लगने जा रहा है । इस मेडिकल केम्प में अनुमानतः 3 लाख से अधिक लोगो का मुफ्त चेकअप किया जाएगा , जरूरतमंदों को मुफ्त दवाई और चश्मा का वितरण किया जाएगा । यही नहीं मेडिकल केम्प में शामिल होने वाले सभी लोगो को मुफ्त में  बीमा भी किया जाएगा । आर के एच आई वी एड्स रिसर्च एंड केयर सेंटर एवं एसोसिएट ग्रोवेलु कंपनी  द्वारा आयोजित किया जा रहा है ,इस केम्प में कोई भी शामिल हो सकता है ।      केयर सेंटर के प्रबंध निदेशक डॉ धर्मेंद्र कुमार और ग्रोवेलु कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर विनीत चोपड़ा    ने प्रेसवार्ता के द्वारान बताया कि उनका उद्देश्य जरूरतमंदों को निशुल्क चिकित्सा मुहैया कराना है । इस मेगा मेडिकल कैम्प में  महाराष्ट्र सरकार और केन्द्र सरकार के कई बरिष्ट मंत्रीगण एवं  फिल्म जगत से  कई नामी गिरामी अभिनेता व अभिनेत्री मौजूद रहेंगी । मेगा मेडिकल केम्प का  प्रचार प्रसार पब्लिश मीडिया(अखिलेश सिंह) की टीम कर रही हैं। मेगा मेडिकल केम्प में गिनीज बूक ऑफ़ वर्ल्ड और एशिया बुक वर्ल्ड में नाम दर्ज करा चुकी है । —Akhlesh Singh...
read more

« Previous Entries